Sad Shayari | दर्द भरी शायरियां

1. मैंने मेरे दिल से कहा इश्क कर पर इकरार ना कर अरे प्यार कर पर उसका इजहार ना कर, और मेरे दिल ने कहा तू तेरा काम कर मेरा नाम तो दिल है बस तू ऐतबार ना कर।

2. ग़म से बेगाना बना देती है, चाहत उसकी,
मैं भला कैसे भुला दूं, ये इनायत उसकी।।
मैं खुद से जुदा , उसको नहीं कर पाया,
मेरी एक उम्दा हासिल है, मोहब्बत उसकी।
कोई जा कर तो इतना बता दें उसको,
मुझको उससे भी ज्यादा है, जरूरत उसकी।।

3. ग़म से बेगाना बना देती है, चाहत उसकी, मैं भला कैसे भुला दूं, ये इनायत उसकी।। मैं खुद से जुदा , उसको नहीं कर पाया, मेरी एक उम्दा हासिल है, मोहब्बत उसकी। कोई जा कर तो इतना बता दें उसको, मुझको उससे भी ज्यादा है, जरूरत उसकी।।

Sad-Shayari-Collection

4. दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे,
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे,
वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का,
और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे!

5. हकीकत जान लो जुदा होने से पहले,
मेरी सुन लो अपनी सुनाने से पहले,
ये सोच लेना भूलने से पहले,
बहुत रोई हैं ये आँखें मुस्कुराने से पहले

Sad Shayari For Girlfriend


6. हमसे पूछो क्या होता है पल पल बिताना,
बहुत मुश्किल होता है दिल को समझाना,
यार ज़िन्दगी तोह बीत जायेगी,
बस मुश्किल होता है कुछ लोगो को भूल पाना।ऐ

7. करोगे याद गुज़रे ज़माने को , तरसोगे हमारे साथ एक पल बीताने को।
फिर आवाज दोगे हमें वापस बुलाने को और हम कहेंगे दरवाजा नहीं है , कब्र से बाहर आने को।।

8. प्यार के उजालों में गम का अंधेरा आता क्यों है, जिसको हम चाहे दिल से वही रुलाता क्यों है।
अगर वो मेरे नसीब में नहीं तो खुदा ऐसे लोगों से मिलाता क्यों है।।

9. जरूरी नहीं की प्यार की मंजिल मिल जाये, जिसे हम चाहते हैं वो हमें मिल जाए।
मिले ना तो ना कहो उसे बेवफा , दुआ करो कोई हमसे भी अच्छा अच्छा उसे मिल जाए।।

10. तुम्हारी हर एक बात बेवफा की कहानी है, लेकिन तेरी हर एक सांस मेरी जिंदगी की निशानी है।
तुम आज तक समझ नहीं पाए मेरे प्यार को , मेरे आंसू भी तुम्हारे लिए सिर्फ पानी है।।

Sad Shayari For  Boyfriend


11. कहते हैं कि जहर और प्यार में कोई फर्क नहीं होता है। जहर पीने के बाद लोग मर जाते हैं और पर्याय करने के बाद जी नहीं पाते हैं।।

12. वो‌ हामारा इम्तिहान क्या लेगी , मिलेगी नजरो से नजर तो‌ अपनी नजरें झुका लेगी।
उसे मेरी कब्र पर दीये जलाने को मत कहना वो‌ नादान है दोस्तों अपना हाथ जला लेगी।।

13. इस जाहान में मोहब्बत काश ना होती, तो सफ़र ए‌ ज़िन्दगी में मीठास ना होती।
अगर मिलती बेवफाओं को सजा ए मौत तो दीवानों की कब्रें यूं उदास ना होती।।

14. जीना चाहतें हैं मगर जिंदगी रास नहीं आती है, मरना चाहतें हैं मगर मौत पास नहीं आती है।
एक तो‌ उदास है इस जिंदगी से और दूसरी उसकी यादें तड़पाने से बाज नहीं आती है।

15. टूट जाए ख्वाब तो जुड़ने की आस क्या रखना , पलको के भीगने का हिसाब क्या रखना।
बस इसलिए मुस्कुरा देते हैं हम , की अपनी उदासी से किसी को उदास क्यों रखना।।

Dard Bhari Shayari | दर्द भरी शायरियां

16. खुदा से थोड़ा रहम मांग खरीद लेते, अपने जख्मों का मरहम खरीद लेते हैं।
अगर कहीं बिकती मेरी खूशी तो सब खुशियों को बेच कर आपका सब गम खरीद लेते हैं।।

17. दिल को हमसे चुराया आपने दूर होते हुए अपना बनाया आप ने।
कभी भूल नहीं पाएंगे आप को क्योंकि याद रखना सीखाया आप ने।।

18. एहसास के दामन में आंसू गिराकर तो देखो, रिश्ता कितना सच्चा है आजमा कर तो देखो।
आप को भूल कर क्या होगी हमारी हालत किसी आईने पर पत्थर गिरा कर तो देखो।

19. वक्त के साथ हर चीज बदल जाती है , हर याद पर धूल चढ़ जाती हैं।
लेकिन आप की तस्वीर दिल के उस कोने में रखी है , जहां सांस भी पूछ कर जाती है।।

20. हम मौत को भी जीना सीखा देंगे, बुझी जो शमां उसे भी जला देंगे।
कसम आप के प्यार की जिस दिन हम जायेंगे दुनिया से, एक बार तो आपको भी रुला देंगे।।

Painful Hindi Shayari 

21. हो‌ नहीं सकता मुझे आप‌की याद ना आए , भूल के भी भी भूलु वो अहसास ना आएं।
आप भूले तो आप पर कोई आंच ना आएं, पर अगर मैं भूलु तो मुझे अगली सांस ना आएं।।

22. आंखों से अश्कों की बरसात होती है जुदाई में क्या दिन क्या रात होती है। काश जुदाई का एहसास उसी वक्त हो जाए जब किसी से प्यार की शुरुआत होती है।।

23. किसी की चाहत पर दिल से अमल करना दिल टूटे ना उनका इतनी फिक्र करना। यह जिंदगी खास है सभी के लिए पर आप जिनके लिए खास हो उनकी कद्र करना।।

24. प्यार करके कोई जताए यह जरूरी तो नहीं याद कर के कोई बताए यह जरूरी तो नहीं।।
 रोने वाले तो दिल में रो लेते हैं आंखों में आंसू आए यह जरूरी तो नहीं।।

25. उसके बिन मैं मर नहीं जाऊंगा मैं तो दरिया हूं सागर में उतर जाऊंगा।
वह तरस जाएगी प्यार की एक बूंद को भी मैं तो बादल हूं किसी और पर बरस जाऊंगा।।

Heart Broken Sad Shayari

26. वह बेगानों में अपने हम अपनों में अनजान लगते हैं।
हमारे खून की कीमत नहीं उनके अश्कों के दाम लगते हैं।।

27. जिंदगी में ज्यादा खुशी मिले तो पीछे मुड़ कर देख लेना हम आपके पीछे होंगे।
पर दुख में पीछे मुड़कर मत देखना क्योंकि तब हम आपके साथ होंगे।।

28. टूट जाएं ख्वाब तो जोड़ने की आस क्या रखना पलकों के भीगने का हिसाब क्या रखना।
बस इसलिए मुस्कुरा देते हैं कि अपनी उदासी से किसी को उदास क्या करना।।

29. आंखें खुली हो तो चेहरा तुम्हारा हो आंखें बंद हो तो सपना तुम्हारा हो।
मुझे मौत का डर ना होगा अगर कफन की जगह दुपट्टा तुम्हारा हो।।

30. मुस्कुराना छोड़ दे दिल लगाना छोड़ दे अपने चाहने वालों को तड़पाना छोड़ दे।
मंजूर है तेरी हर जुदाई प्यार में मगर तू गैरों से दिल लगाना छोड़ दे।।

Bewafai Shayari Collection | बेवफा शायरी कलेक्शन

31. उसने हमसे पूछा कि तेरी सजा क्या है क्यों करते हो पसंद वजह क्या है।
मगर कोई बताए उसे कि मेरी खता क्या है जो वजह से करे किसी को पसंद उसमें मजा क्या है।।

32. जब हम उदास होते हैं आपकी तस्वीर आंखों में लेकर रोते हैं।
भीगना जाएं तस्वीर आंसुओं से कहीं इसलिए हम आंखों से नहीं दिल से रोते हैं।।

33.  तेरी याद को जुदा तो नहीं किया रखा जो तुझे याद कुछ बुरा तो नहीं किया।
नाराज हो आप किसलिए हमने कभी किसी को खफा तो नहीं किया।।

34. आता नहीं हमें इकरार करना ना जाने कैसे सीख गए प्यार करना ।
रुकते ना थे दो पल किसी के लिए ना जाने कैसे सीख गए इंतजार करना।।

35. जिंदगी को तन्हा विरानओं में रहने दो , यह वफ़ा की बातें ख्यालों में रहने दो।
हकीकत में अजमाने से टूट जाते हैं दिल,  यह इश्क मोहब्बत किताबों में रहने दो।।

दिल चीर देने वाली दर्द भरी शायरियां

36. तब तक प्यार को प्यार ना करो जब तक प्यार आपसे प्यार ना करें।
जब प्यार आपसे प्यार करे तो प्यार को इतना प्यार करो कि प्यार किसी और से फिर प्यार ना करें।।

37. अलविदा कहते हुए जब मैंने उनसे पूछा कि कोई निशानी तो दे दो वह मुस्कुराते हुए बोले जुदाई ही काफी है अगर याद कर सको तो।

38. वो रूठा रूठा सा लगता है कोई तरकीब बताओ पास आने की। मैं जिंदगी गिरवी रख सकता हूं तुम कीमत बताओ उसको मनाने की।

39. कितना है बता नहीं सकते जख्म कितने हैं दिखा नहीं सकते। आंखों से समझ सको तो समझ लो आंसू गिरे हैं कितने गिना नहीं सकते।।

40. दूर होकर करीब रहना नजाकत है मेरी याद बनकर आंखों से बहना शरारत है ।मेरी करीब ना होते हुए भी करीब हूं पाओगे क्योंकि एहसास बनकर दिल में रहना आदत है हमारी।।

तड़पते दिल की शायरी | दर्द भरी शायरियां

41. दूर होकर जब उनसे दूर जा नहीं पाते इतना रोते हैं कि किसी को बता नहीं पाते। दर्द यह नहीं कि वह हमारे नहीं हो सकते दर्द यह है कि हम उन्हें भुला नहीं पाते।।

42. चीज़ बेवफ़ाई से बढ़कर क्या होगी;
ग़म-ए-हालात जुदाई से बढ़कर क्या होगी।
जिसे देनी हो सज़ा उम्र भर के लिए;
सज़ा तन्हाई से बढ़कर क्या होगी।।

43. एक पल में ज़िन्दगी भर की उदासी दे गया;
वो जुदा होते हुए कुछ फूल बासी दे गया;
नोच कर शाखों के तन से खुश्क पत्तों का लिबास;
ज़र्द मौसम बाँझ रुत को बे-लिबासी दे गया।

44. साँस थम जाती है पर जान नहीं जाती;
दर्द होता है पर आवाज़ नहीं आती;
अजीब लोग हैं इस ज़माने में ऐ दोस्त;
कोई भूल नहीं पाता और किसी को याद नहीं आती।

45. सजा कैसी मिली हमको तुझसे दिल लगाने की,
रोना ही पड़ा जब कोशिश की मुस्कुराने की,
कौन बनेगा यहाँ मेरी दर्द भरी रातों का हमराज,
दर्द ही मिला है जो तूने कोशिश की आजमाने की।

Sad Shayari in Hindi दर्द भरी शायरियां

46. जख्म जब मेरे सीने के भर जाएंगे,
आँसू भी मोती बन के बिखर जाएंगे,
ये मत पूछना किसने दर्द दिया,
वरना कुछ अपनों के चेहरे उतर जाएंगे।

47. मोहब्बत मुझे थी उसी से सनम,
यादों में उसकी यह दिल तड़पता रहा।
मौत भी मेरी चाहत को रोक न सकी।
कब्र में भी यह दिल धड़कता रहा।।

48. मुझे नही पता कि ये दिल बिगड़ गया या सुधर गया,
बस अब ये दिल किसी से मोहब्बत नही करता।मुझे नफरत हो गई है रिश्तो की लम्बी कतारों से।

49. सौ बार कहा दिल से..चल भूल भी जा उसको ।
हर बार कहा दिल ने..तुम दिल से नही कहते।।

50. आज फिर मौसम नम हुआ मेरी आँखों की तरह,
शायद बादलों का भी दिल किसी ने तोड़ा होगा ।

51. इस से ज़्यादा तुम्हे और कितना करीब लाऊँ मैं,
कि तुम्हे दिल में रख कर भी मेरा दिल नहीं भरता ।

52. ताल्लुक हो तो रूह से रूह का हो।
दिल तो अकसर एक दूसरे से भर जाया करते हैं।

53. इख्तियार में क्या नहीं, मुझे इस तरह नवाज़ दे,
यूं दुआएं मेरी कुबूल हों, कि मेरे लब पे कोई दुआ न हो।

54. भूल जाने का मशवरा और जिँदगी बनाने की सलाह,
ये कुछ तोहफे मिले थे,उनसे आखिरी मुलाकात मेँ….!!

55. ऐ खुदा बस इतना सा "करम" कर दे ...
"ज़िन्दगी" जितनी उसके "बगैर"लिखी है वो कम कर दे !!!

Post a Comment

Previous Post Next Post