दुनिया भर में कहर मचाने वाली top 7 बिमारी

Top 7 diseases around the world

इन्फो वर्ल्ड में आपका स्वागत हैं | दोस्तों ,दुनिया में कई सारी बीमारियों के कारण रोज लाखो लोग शिकार होते हैं | पर बार करेंगे उन कहर मचाने वाले महामरियों की जो दुनिया में आई और एकसाथ लाखो-करोडो लोगो को अपनी चपेट में लेकर गयी | लोग अनजाने में इस वायरस ,बिमारियों को फैलने का मौक़ा देते हैं और इनका संक्रमण दुनिया भर हो जाता हैं |
Top 7 diseases around the world

1 . इन्फ्लूएंज़ा फ्लू -1918

दुनिया को सौ साल पहले इन्फ्लूएंज़ा वायरस दिखाई दिया था और और इसकी चपेट में दुनिया भर से 100 मिलियन लोगों के बीच मारे गए थे । यह वायरस जूनोसिस सुअरों से मनुष्यों को या मनुष्य से सूअरों को होती दिखाई देती है | 1918 की स्पैन में हुए इस विनाशकारी फ्लू के कारण स्पैनिश एन्फ्लूएंज़ा नाम दिया गया। वर्ष 1918 इस का न तो कोई इलाज था और न ही कोई प्रभावी टीका।

2 .एशियाई फ्लू 1957-58

में इन्फ्लूएंजा ए (H2N2) की एक महामारी है एशियाई फ्लू | पहली बार फरवरी 1957 के अंत में चीन में पहचाना गया, एशियाई फ्लू जून 1957 तक संयुक्त राज्य अमेरिका में फैल गया, जहाँ इसने लगभग 70,000 लोगों की मृत्यु का कारण बना। इसे एशियाई इन्फ्लूएंजा के रूप में भी जाना जाता है।

3 .हांगकांग फ्लू -1968

हांगकांग फ्लू महामारी एक महामारी थी जिसका प्रकोप में 1968 और 1969 में दुनिया भर में अनुमानित १० लाख लोग मारे गए थे | यह इन्फ्लूएंजा ए वायरस के एच 3 एन 2 तनाव के कारण हुआ था, क्योंकि यह हांगकांग में पैदा हुआ था, महामारी को हांगकांग फ्लू भी कहा जाता है

4 .इबोला वायरस -1976

अफ्रीका के सूडान में रोग की पहचान सर्वप्रथम सन 1976 में इबोला नदी के पास स्थित एक गाँव में की गई थी। इसी कारण इसका नाम इबोला पडा। इबोला एक ऐसा रोग है जो मरीज के संपर्क में आने से फैलता है। इसके चपेट में आकर टाइफाइड,कॉलरा,बुखार,और मांसपेशियों में दर्द होता है। बाल झड़ने लगते हैं। इबोला के मरीजों की 50 से 80 फीसदी मौत रिकॉर्ड की गई है।

5 .एड्स -1986

1988 में पहली बार इस वायरस को एचआईवी यानी Human immunodeficiency virus वायरस का नाम मिला |संक्रमित व्यक्ति में एड्स के लक्षणों का विकास संक्रमण के 6 महीने से लेकर 10 साल तक में हो सकता है। पूरी दुनिया में इसके बाद एड्स के बारे में लोगो को जागरूक करने के अभियान शुरू हो गए और 1988 से हर साल 1 दिसंबर को वर्ल्ड एड्स डे के रूप में मनाया जाता है |

6 .स्वाइन फ्लू -2006

2006 भारत में इस बीमारी से कुल 1,094 मौतें हुई और 22,186 मामले सामने आए थे | स्वाइन फ्लू के नाम से जाना जाने वाला एच1एन1 इंफ्लूएंजा एक बेहद संक्रामक रोग है और एक व्यक्ति से दूसरे में तेजी से फैलता है | 2009 में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे महामारी घोषित किया था | फिर से 2015 में भारत में स्वाइन फ्लू के 933 केस आये थे जिसमें 218 लोगों की जानें गयी थी |

7 .कोरोना वायरस -2020

चीन के वुहान शहर से फैला यह कोरोना वायरस अब तक दुनिया के 100 से उपर देशो में फ़ैल गया हैं | अब तक दुनिया भर में 4316 लोग मर चुके हैं और 100 देशों में इसके संदिग्ध मामले सामने आ चुके हैं | विश्व स्वास्थ्य संगठन पहले ही इसे इमर्जेंसी घोषित कर चुका है |

Post a Comment

0 Comments