स्वप्नदोष होने से कैसे रोकें। Night Fall Kaise Roke

Night Fall होने से कैसे रोकें।

गोद का कतीरा का सेवन करें

गोंद पेड़ से मिलता है, जो कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होता है। जिन लोगों को शारीरिक कमजोरी अधिक महसूस होती है, उन्हें इसका सेवन जरूर करना चाहिए।  गोंद कतीरा (tragacanth benefits) भारत के कई राज्यों में उपलब्ध है जैसे राजस्थान, गुजरात, पंजाब, महाराष्ट्र आदि। गोंद आसानी से पानी में घुल जाता है। खांसी, दस्त, गले की खराश आदि रोगों को दूर करने के लिए इसका इस्तेमाल खूब किया जाता है। इतना ही नहीं, इसका इस्तेमाल दवाओं के साथ ही एनर्जी ड्रिंक्स, आइसक्रीम, सौंदर्य प्रोडक्ट्स आदि में भी होता है। जानें, गोंद कतीरा (Gond katira benefits) के सेहत लाभ...

ताहसीर गर्म होती है।

गोंद कतीरा (Benefits of Gond) की तासरी गर्म होती है, इसलिए आप इसका सेवन इन दिनों कर सकते हैं। गोंद का आयुर्वेदिक चीजों में अधिक इस्तेमाल किया जाता है। गर्मी में अधिक सेवन से बचना ही चाहिए। आपने गोंद के लड्डू के बारे में तो सुना ही होगा, तो यह लड्डू इसी गोंद कतीरा से बनता है। सर्दियों में इस लड्डू को खाने से शरीर को गर्मी मिलती है।
(Gond katira benefits) गोंद खाने के फायदे

गोंद कतीरा बूस्ट करें इम्यूऊ सिस्टम

इम्यून सिस्टम कमजोर होने पर आप बीमार पड़ सकते हैं। गोंद काफी हद तक  यह परुषों में प्रजनन से संबंधित समस्याओं के इलाज के काम भी आता है। भारत में, गोंद मुख्य रूप से बाबूल से प्राप्त होता है। इसके उपज कमजोर तंत्रिका तंत्र, चिंता और अवसाद के अलावा ज्यादा और कम विटामिन डी के स्तर वाले लोगों के लिए फायदेमंद है। यह त्वचा की देखभाल करने के लिए भी जाना जाता है। गोंद को रात भर पानी में डालकर पौष्टिक पेस्ट बनाएं। इसमें अंडा, बादाम पाउडर और दूध जैसे तत्व भी मिला सकते हैं।

Night Fall होने से ऐसे रोकें।

यदि आपको स्वप्नदोष की समस्या है, तो आप प्रत्येक रात में सोने से पहले एक गिलास दूध में गोंद मिलाकर पिएं। पुरुषो में स्वप्नदोष और शीघ्रपतन (Premature ejaculation) जैसी समस्‍याओं का यह रामबाण इलाज करता है।
जवां बनाए

चाहते हैं लंबी उम्र तक स्वस्थ, ताकतवर और जवान बने रहना, तो आज से ही पीना शुरू कर दें गोंद कतीरा मिला दूध। इसके लिए एक गिलास दूध लें।  इसमें गोंद कतीरा और मिश्री मिलाकर पी जाएं। लगातार कुछ महीनों तक इसका सेवन करने से आपको शारीरिक ताकत मिलेगी, ऊर्जा का संचार होगा और कमजोरी दूर होगी।
प्रेग्नेंसी में करें सेवन

प्रेगनेंट और ब्रेस्टफीड कराने वाली महिलाओं को भी इसका सेवन करना चाहिए। यह कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। हालांकि, तासीर गर्म होती है, तो डॉक्टर से पूछ कर ही प्रेगनेंट महिलाओं को इसका सेवन करना चाहिए। हाल ही में किसी बीमारी से उबरे हैं, तो गोंद आपके लिए औषधि का काम कर सकता है।

Post a Comment

0 Comments